सिंहम अभिनेता सूर्या ने तीन भाषी नयी राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति की आलोचना की

0
107

तमिल अभिनेता सूर्या शिवकुमार ने केंद्र की ड्राफ्ट राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) की आलोचना करते हुए कहा कि इसमें कुछ प्रावधान ग्रामीण क्षेत्रों में छात्रों को नुकसान पहुंचाएंगे।

सिंहम फेम अभिनेता ने यह भी कहा कि नीति का मुख्य ध्यान समान और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के बजाय प्रवेश परीक्षाओं पर केंद्रित था।

आयोजित एक कार्यक्रम में फिल्‍म स्‍टार सूर्या ने कहा, “एनईपी के फोकस पर केवल प्रवेश परीक्षा आयोजित करने और छात्रों के लिए गुणवत्ता और न्यायसंगत शिक्षा प्रदान करने पर ध्यान नहीं दिए जाने के बारे में सभी लोग क्रोधित, पीड़ा और भयभीत हैं।”

नीति के कार्यान्वयन में दिखाई गई जल्दबाजी पर सवाल उठाते हुए, 43 वर्षीय अभिनेता ने कहा, “यह देश के 30 करोड़ छात्रों को प्रभावित करने वाला है।”

उन्होंने दावा किया कि मसौदा के कुछ प्रावधान ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले छात्रों को “गंभीर रूप से प्रभावित” करेंगे। तीन भाषाओं की नीति पर, सूर्या ने आगे कहा कि यह छात्रों को स्कूलों में जाने से हतोत्साहित करेगा।”

अभिनेता सूर्या ने कहा , “विद्यार्थी कक्षाओं में कैसे हाजिर होंगे? मैं खुद अपने बच्चों को तीसरी भाषा सिखाने में चुनौतीपूर्ण महसूस कर रहा हूं।”