जब विद्या बालन पर लगा था बदनसीब होने का ठप्पा, और एक ही झटके में छीनी थी 12 फिल्में!

Spread the love

मुम्बई। बीता हुआ साल अभिनेत्री विद्या बालन के लिए काफी अच्छा रहा, ऐसा कहा जा सकता है क्योंकि लंबे समय से विद्या बालन को एक बॉक्स आॅफिस हिट की जरूरत थी, जो फिल्म तुम्हारी सुलु से पूरी हुई। विद्या बालन ने चलती ट्रेन से दे दिया था युवक को धक्का, जब उसने की अश्लील हरकत

वैसे निगाह आकर्षक अभिनेत्री विद्या बालन के लिए असफलता का सामना करना कोई नयी बात नहीं। हां, इतना जरूर है कि असफलता के दौरान विद्या बालन भी अन्य लोगों की तरह प्रभावित और बेचैन जरूर होती हैं।

द डर्टी पिक्चर से सफलता की शिख़र पर बैठने वाली अभिनेत्री विद्या बालन ने शुरूआती दौर में काफी नकारात्मकता और विफलताओं का सामना किया है। फिल्म जगत में शुरूआत करना विद्या बालन के लिए लगभग असंभव सा हो चला था। जब सेना जवान ने वक्ष पर डाली गंदी नजर, तो गुस्से से तिलमिला उठीं विद्या बालन!

कॉमेडी सीरियल ​हम पांच से टेलीविजन डेब्यु करने वाली विद्या बालन ने शिक्षा पूरी करने के लिए फिल्मकार अनुराग कश्यप का टेलीविजन सीरियल आॅफर ठुकराया। और बाद में विद्या बालन ने मलयालम सुपरस्टार मोहन लाल के साथ फिल्मी कैरियर शुरू करने की कोशिश की।

जब फिल्म निर्देशक कमल ने मलयाली फिल्म चक्रम में विद्या बालन को स्टार मोहन लाल के सामने कास्ट किया, तो विद्या बालन के परिवार ने फिल्म जगत में कदम रखने की मंजूरी भी दे दी। इस फिल्म की घोषणा के साथ ही विद्या बालन की झोली में एक साथ 12 अन्य मलयालम फिल्में आ गिरी।

अफसोस कि कमल निर्देशित फिल्म चक्रम शूटिंग शुरू होने के साथ ही चक्र खाकर जमीन पर आ गिरी। इस फिल्म की शूटिंग बंद होने का कारण विद्या बालन के बुरे नसीब को बताया गया और नतीजन, विद्या बालन के हाथ से दूसरी बारह फिल्में भी निकल गई।

मलयालम फिल्म जगत में विफल होने पर विद्या बालन ने तमिल फिल्म जगत की तरफ कदम बढ़ाए। जहां पर विद्या बालन के हाथ अभिनेता आर माधवन की फिल्म रन लगी, जिसका निर्देशन नरैन लिंगुसामी ने किया था। लेकिन, अभी फिल्म की शूटिंग का पहला चरण खत्म हुआ था कि निर्माता निर्देशक ने विद्या बालन को अचानक ही फिल्म से अलग कर दिया।

इसके बाद तमिल फिल्म जगत में अभिनेत्री विद्या बालन को दूसरा झटका उस समय लगा, जब विद्या बालन को धोखे से एक सेक्स कॉमेडी फिल्म के लिए साइन कर लिया गया। बाद में, जैसे ही ​विद्या बालन को फिल्म की शैली का पता चला तो विद्या बालन ने फिल्म करने से इंकार कर दिया।

इसके बाद विद्या बालन ने एक अन्य तमिल फिल्म मनासेल्लम में काम करना शुरू किया। इस फिल्म से भी विद्या बालन को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया क्योंकि निर्देशक विद्या बालन के काम से खुश नहीं था। इस फिल्म में बाद में विद्या बालन की जगह अभिनेत्री तृषा को कास्ट किया गया।

तमिल फिल्म जगत में भी बात न बन सकने के कारण विद्या बालन ने फिर से मलयालम फिल्म जगत में वापसी करने का साहस किया और मलयालम फिल्म कालारी विक्रमन साइन की। इस फिल्म की शूटिंग पूरी हुई। लेकिन, यह फिल्म रिलीज न हो सकी।

फिल्म जगत में असफल होने के बाद विद्या बालन ने विज्ञापन जगत में कदम रखा। जहां पर विद्या बालन ने फिल्मकार प्रदीप सरकार के निर्देशन में कई विज्ञापनों में काम किया। अंत साल 2003 में विद्या बालन को लेकर फिल्मकार गौतम हलदार ने भालो ठेको नामक फिल्म बनायी, जो विद्या बालन की ​पहली फीचर फिल्म थी।

इसके बाद फिल्म परिणीता से फिल्म निर्देशक प्रदीप सरकार ने विद्या बालन को हिंदी फिल्म जगत में प्रवेश करवाया। कहा जाता है कि परिणीता से पहले विद्या बालन को 17 मेकअप शूट्स के साथ 40 स्क्रीन टेस्टों का सामना करना पड़ा था।

परिणीता के बाद राजकुमार हिरानी की लगे रहो मुन्नाभाई और मणिरत्नम की गुरू से विद्या बालन का नाम हिंदी फिल्म जगत में चमकने लगा।

विद्या बालन की बेहतरीन फिल्मों में हे बेबी, भूलभुलैया, पा, इश्किया, नो वन किल्ड जैसिका, द डर्टी पिक्चर, कहानी, हमारी अधूरी कहानी, कहानी 2 : दुर्गा रानी सिंह आदि फिल्में शामिल हैं।

गौरतलब है कि तमिल परिवार से संबंध रखने वाली अभिनेत्री विद्या बालन का जन्म 1 जनवरी 1979 को हुआ था और अभिनेत्री विद्या बालन के घर में तमिल और मलयालम दोनों ही भाषाएं शुरू से बोली जाती रही हैं। समाज विज्ञान में मास्टर डिग्री हासिल करने वाली विद्या बालन की पढ़ाई लिखाई मुम्बई में हुई है।  दक्षिण भारतीय अभिनेत्री प्रियामणि ​विद्या बालन की कजिन है।

Image Source : instagram.com/balanvidya/

Leave a Reply