शेखर कपूर के ​जन्मदिवस पर विशेष; महज 15 साल की उम्र में हुआ था पहली दफा प्यार

Spread the love
  • 6
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मुम्बई। दो बार वैवाहिक जीवन शुरू करके खत्म कर चुके फिल्मकार शेखर कपूर को महज 15 साल की उम्र में पहली दफा प्यार हुआ था। हालांकि, शेखर कपूर का पहला प्यार एकतरफा ही था।

शेखर कपूर ने कुछ साल पहले एक समाचार पत्र को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया था कि जब उनको पहली बार एक लड़की से प्यार हुआ था, तब उनकी उम्र महज 15 साल थी। लड़की सीजेएम में पढ़ती थी और बस से स्कूल आती जाती थी।

शेखर बताते हैं, ‘मैं उसकी बस के साथ साथ अपने साइकिल से उसके स्कूल तक जाता था। ऐसा कई महीनों तक हुआ। एक दिन मैं बड़ी हिम्मत जुटाकर उसके घर गया। उसकी मां ने दरवाजा खोला और मैंने उसकी मां से उसको बुलाने के लिए कहा। मैंने उसके सामने अपने प्यार का इजहार किया। लेकिन, उसने कहा कि वह किसी अन्य लड़के से प्यार करती है। उस दिन मेरा दिल टूटा था।’

शेखर कपूर जवानी के दिनों में बड़े इश्कबाज स्वभाव के रहे हैं। जब कॉलेज में पहुंचने पर मां बाप ने शेखर कपूर को लम्ब्रेटा स्कूटर दिलाया, तो शेखर कपूर ने इस स्कूटर का इस्तेमाल कॉलेज आने जाने के लिए कम और हम उम्र लड़कियां पटाने के लिए अधिक किया।

वैसे भी शेखर कपूर और शबाना आजमी की करीबियों के चर्चे भी कम नहीं हुए। दोनों ने पहली बार फिल्म इश्क इश्क इश्क में काम किया था। इस फिल्म का निर्माण शेखर कपूर के मामा और फिल्म अभिनेता देव आनंद ने किया था। इस फिल्म से शुरू हुआ रिश्ता लगभग कई सालों तक चला। शेखर कपूर की पहली निर्देशित फिल्म मासूम में शबाना आजमी ने अहम भूमिका अदा की थी।

शेखर कपूर शबाना आजमी को अपनी पूर्व पत्नियों मेधा और सुचित्रा की तरह जमीन से जुड़ी हुई महिला करार देते हैं। अभिनेत्री शबाना आजमी ने शेखर कपूर को फिल्म जगत में आगे बढ़ने और अपने सपने को पूरा करने के लिए हमेशा प्रोत्साहित किया था।

मेधा गुजराल के साथ 1994 में अपना पहला वैवाहिक जीवन खत्म करने वाले फिल्मकार शेखर कपूर ने सुचित्रा कृष्णामूर्ति के साथ 1999 में दूसरी बार वैवाहिक जीवन की शुरूआत की। लेकिन, यह रिश्ता भी सात साल से ज्यादा समय तक टिक न सका। हालांकि, इस रिश्ते से फिल्मकार शेखर कपूर और सुचित्रा कृष्णामूर्ति को एक पुत्री कावेरी है।

उस समय शेखर कपूर की पूर्व पत्नी सुचित्रा कृष्णामूर्ति ने अपने तलाक की वजह अभिनेत्री प्रीति जिंटा को बताया था। सुचित्रा कृष्णामूर्ति ने दावा किया था कि शेखर कपूर और प्रीति जिंटा के बीच रोमांटिक रिलेशनशिप है जबकि प्रीति जिंटा ने इस बात को खारिज करते हुए सुचित्रा को मानसिक तौर पर परेशान महिला करार दिया था।

प्रीति जिंटा को फिल्म जगत में प्रवेश करवाने वाले शेखर कपूर हैं। शेखर कपूर प्रीति जिंटा के साथ फिल्म बनाना चाहते थे, जो किसी कारण बन न सकी। प्रीति जिंटा ने दिल से फिल्म से बॉलीवुड में कदम रखा, जिसके निर्मााताओं में शेखर कपूर का नाम भी शामिल है।

गौरतलब है कि 6 दिसंबर 1945 को लाहौर में पैदा हुए शेखर कपूर जीवन के 71 बसंत देख चुके हैं। फिल्म जगत में प्रवेश करने से पहले शेखर कपूर विदेश में सीए की नौकरी कर रहे थे। लेकिन, नौकरी में बोरियत आने लगी तो भारत लौट आए और  अभिनेता देव आनंद के पास मुम्बई चले गए।

बॉबी देओल की डेब्यु फिल्म बरसात का निर्देशन शुरू में शेखर कपूर कर रहे थे। लेकिन, कुछ सीनों को शूट करने के बाद शेखर कपूर ने फिल्म छोड़ दी। उस समय फिल्म का नाम बरसात नहीं बल्कि चैंपियन था। इससे पहले शेखर कपूर सनी देओल की जोशीले और दुश्मनी को भी अधर में छोड़ चुके थे।

शेखर कपूर की बेहतरीन निर्देशित फिल्मों में मासूम, मिस्टर इंडिया, बैंडिट क्वीन, एलिजाबेथ, एलिजाबेथ द गोल्डन एज शामिल हैं। शेखर कपूर की टाइम मशीन और जल ऐसी दो फिल्में हैं, जो हमेशा से चर्चा में हैं। लेकिन, कभी जमीन पर नहीं आ सकी।

फिल्म जगत से जुड़े अन्य Updates लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, Twitter और Google Plus पर Join करें।