स्वरा भास्कर ने सुनायी आप बीती, ऐसे ​बच निकली थी कामी निर्देशक के चुंगल से!

मुम्बई। हॉलीवुड निर्माता हार्वे वाइनस्टीन की तरह महिलाओं को भोग विलास की वस्तु समझने वाले लोग हिंदी फिल्म जगत में भी बसते हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान अभिनेत्री स्वरा भास्कर द्वारा किया गया खुलासा इस बात पर पक्की मोहर लगाता है।

मुम्बई मिरर  के साथ विशेष बातचीत के दौरान अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने स्वीकार किया कि वह भी एक फिल्म शूटिंग के दौरान उत्पीड़न का सामना कर चुकी हैं।

फिल्म जगत से जुड़े अन्य Updates लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, Twitter और Google Plus पर Join करें।

तेनु वेड्स मनु रिटर्न्स अभिनेत्री स्वरा भास्कर के मुताबिक वह फिल्म जगत में नयी नयी आईं थी। उन्हें फिल्म की शूटिंग के लिए एक दूर दराज इलाके में डेरा डालना पड़ा। इस फिल्म के निर्देशक का दिल उन पर आ गया।

निर्देशक ने उनको पहले पहल तो मोबाइल संदेशों से परेशान किया। निर्देशक दिन रात उनका पीछा करने लगा। जब दाल नहीं गली तो निर्देशक ने एक सीन पर चर्चा करने के लिए उन्हें होटल में बुलाया। जहां पर निर्देशक शराब पी रहा था। पहले ही हफ्ते में निर्देशक ने उनके साथ सेक्स और प्यार की बातें करना शुरू कर दी।

और अचानक एक रात शराब के नशे में धुत्त निर्देशक उनके कमरे में आ धमका,और गले लगाने की बात कहने लगा। इतना सुनते ही उनके होश फुर्र हो गए। उनके लिए यह पल काफी भयानक था।

इस हादसे के बाद उन्होंने निर्देशक को चेताया कि यदि ऐसे ही आप पेश आए तो मुझे काम अधर में छोड़ना पड़ सकता है। निर्देशक ने कहा कि वह उनको गलत समझ रही है।

इसके पश्चात अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने तत्काल सहयोगी निर्माता से बात की, और अपने साथ सुरक्षा के तौर पर किसी को रखने लगी। यहां तक कि पैकअप होने के बाद मेकअप उतारने के लिए भी अभिनेत्री अपने रूम की बत्ती गुल रखने लगी।

इसके अलावा स्वरा भास्कर ने कहा कि उनके हाथ से कई अच्छे रोल इसलिए निकल गए, क्योंकि वह निर्माता निर्देशक की काम वासना से जुड़ी मांग को पूरा करने के लिए तैयार नहीं थी। कुछ लोगों ने तो उनको कॉल करना भी बंद कर दिया था।