फिल्म पद्मावती के समर्थन में उतरे फिल्म जगत से जुड़े कई संगठन

मुम्बई। जैसे जैसे फिल्म पद्मावती के रिलीज होने की तारीख नजदीक आ रही है, वैसे वैसे मामला तूल पकड़ता जा रहा है। जहां एक ओर राजपूत समाज और राजनेताओं से लेकर मुम्बई के डिब्बा वालों तक ने फिल्म पद्मावती के विरोध में आवाज बुलंद की। वहीं दूसरी ओर फिल्मकार संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती को बचाने के लिए फिल्म जगत से जुड़े कई संगठन एक मंच पर आ चुके हैं।

सोमवार को इंडियन फिल्म्स एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन के बैनर तले फिल्मकार अशोक पंडित की अगुवाई में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया।

फिल्म जगत से जुड़े अन्य Updates लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, Twitter और Google Plus पर Join करें।

इस प्रेस वार्ता में सिने एंड टीवी आर्टिस्ट एसोसिएशन, वेस्टर्न इंडियन सिनेमेटोग्राफर्स एसोसिएशन, स्क्रीन राइर्ट्स एसोसिएशन, फिल्म स्टूडियोज सेटिंग एंड अलाइड मजदूर यूनियन के उच्च पदाधिकारी भी शामिल हुए।

इस मौके पर संबोधित करते हुए अशोक पंडित ने कहा, ‘हम बहुत आहत हैं। हमारे साथ दुर्व्यवहार किया जाता है। हमारे साथ गुंडों से बर्ताव किया जाता है। हम फिल्मकार हैं। हम रचनात्मक हैं। हम इस तरह के बर्ताव के हकदार नहीं हैं।’

आगे अशोक पंडित ने कहा, ‘हर महीने किसी न किसी फिल्म को रोकने की कोशिश की जाती है। पहले मधुर भंडारकर और अब संजय लीला भंसाली को निशाना बनाया जा रहा है। इस तरह के चलन को रोका जाना चाहिये।’

इसके अलावा एसोसिएशन की ओर से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और रक्षा मंत्री को भी पत्र लिखा जाएगा ताकि ऐसी दिक्कतों से फिल्म जगत केा मुक्ति मिल सके।

साथ ही, 16 नवंबर 2017 को संजय लीला भंसाली के समर्थन में फिल्म सिटी के बाहर पूरा फिल्म जगत एकत्र होकर शांतिमय तरीके से अपना रोष व्यक्त करेगा और उसी दिन शाम को चार बजे पंद्रह मिनट के लिए पूरा फिल्म जगत शूटिंग को रोक देगा, जो रोष के रूप में एक कदम होगा।